School History

CH. HEERA LAL MEMORIAL SR. SEC. SCHOOL, CHHAJJUNAGAR (duly affiliated to CBSE- 530817) is an English medium school since 2010 having approval for all three streams (SCIENCE, COMMERCE & ARTS). The school provides quality education and has continuously shown outstanding results in its board examinations. The school follows the prescribed CBSE curriculum for studies and the assessment is done on the basis of CONTINUOUS AND COMPREHENSIVE EVALUATION for classes 1st to 10th. The school promotes VALUE EDUCATION through various activities to its students to enable them to be useful citizens and assets of the country. The school consists its junior and senior wings in 5 acres of land located at Chhajjunagar. There are 35 rooms for spacious and airy class rooms, activity rooms, science laboratories, smart classes (with audio-visual support for teaching-learning process), computer lab, offices, staff rooms and others. Keeping in mind the quality of education fee structure of the school is moderate as per the need. The school has various facilities e.g. school library, computer lab equipped with 15 latest computers, LAN INTERNET ACCESS in the whole campus, projector classes, transport facilities (buses for school staff from PALWAL CITY to Chhajjunagar and for students from neighborhood areas around 20 km) and two (2) sports grounds for outdoor games, auditorium, annual calendar-cum syllabus booklet, medical examination of each student, career counseling for IX, X, XI & XII class students, school information brochure, school canteen (having books nursery to XII, stationery, school uniform, eatables) and BULK MESSAGE FACILITY. The school keenly focuses on various curricular and extracurricular activities through competitions among the school students (inter/intra class or inter/intra house) i.e. sports English speaking (through debates, declamations, extempore & poem recitation), computer knowledge, inculcating life skills and personality development through visual & performing arts (play, skit, drama, streetplay, dance & singing (group & solo), drawing and painting etc.), photography, sharing & caring, best out of waste etc. The school has efficient staff members who are dedicated and devoted to the cause of education. Under the visionary guidance of its Chairman – Mr. Dharamvir Singh Chauhan and Vice Chairman – Mr. Brham Dutt Kaushik the school has made its significant and remarkable progress since 2001 (when it was an HBSE Affiliated school) and now it has become a Senior Secondary School under the affiliation of CBSE, Delhi (since 2011).

चौ. हीरालाल मैमोरियल सीनियर सेकेंडरी स्कूल गांव छज्जूनगर स्थित चौ. हीरालाल मैमोरियल सीनियर सेकेंडरी स्कूल केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड भारत से मान्यता प्राप्त एक अंग्रेजी माध्यम स्कूल है। यहां कक्षा नर्सरी से 12वीं में कला, वाणिज्य व विज्ञान संकाय की शिक्षा प्रदान की जाती है। विद्यालय में शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष बल दिया जाता है। हरियाणा राज्य में शिक्षा के स्तर को ऊंचा उठाने में सन् 2001 से ही यह विद्यालय अपना योगदान दे रहा है। विद्यालय ने अपने स्थापना वर्ष 2001 में हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड भिवानी से मान्यता प्राप्त की थी तथा सन् 2010 में केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से (530817 संबद्धता क्रमांक) संबद्धता प्राप्त की। विद्यालय सीबीएसई द्वार दिए गए पाठ्यक्रम का पूर्ण रूप से अनुसरण करता है व सीसीई सतत एवं मूल्यांकन पद्धति द्वारा अधिगम व मूल्यांकन किया जाता है। विद्यालय में विद्यार्थियों के भविष्य के जिम्मेदार नागरिक व उपयोगी मानव संसाधन बनाने के लिए मौलिक शिक्षा को बढ़ावा देता है। सीबीएसई के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए विभिन्न गतिविधियों के माध्यम से विद्यालय में विद्यार्थियों के चहुंमुखी विकास के लिए निरंतर प्रयास किया जाता है। पाठ्यक्रम अधिगम के साथ-साथ पाठ्येत्तर गतिविधियां जैसे खेल प्रतियोगिता, इंगलिश स्पीकिंग (वाद-विवाद, भाषण व साधारण बातचीत से) कंप्यूटर शिक्षा, जीवन कौशल, चित्रकारी, नृत्य, संगीत (वाद्य व गायन) नाटक, फोटोग्राफी व अन्य दृश्य प्रदर्शन कलाओं पर विशेष ध्यान दिया जाता है। विद्यालय में समय की मांग को देखते हुए विभिन्न आधुनिक सुविधाएं उपलब्ध कराई गई हैं। मुख्य रूप से स्मार्ट क्लास टीचिंग, कंप्यूटर, भौतिकी, रसायन, जीव विज्ञान प्रयोगशालाएं, इंटरनेट सुविधा विशेष आकर्षण का केंद्र हैं। बच्चों को विद्यालय लाने व घर पहुंचाने के लिए बस सुविधा का विशेष प्रबंध है। विद्यालय का प्रांगण पांच एकड़ भूमि में फैला है, जिसमें 35 अधिगम कमरे, सभी प्रयोगशालाएं, कार्यालय, हरे-भरे पार्क, खेल का मैदान, पुस्तकालय आदि बहुउपयोगी सुविधाएं उपलब्ध हैं। विद्यालय में प्रति माह अभिभावकों व अध्यापकों की संगोष्ठी कराई जाती है, ताकि प्रत्येक विद्यार्थी को उचित मार्गदर्शन मिल सके। विद्यार्थीयों में आपसी प्रतिस्पर्धा बढ़ाने हेतु विद्यालय में एक सदन प्रणाली का प्रावधान है, जिसमें चार सदन हैं। विभिन्न क्रियाकलापों को अग्रिम योजना बनाकर अंर्तसदन प्रस्तुत किया जाता है। विद्यार्थियों को केवल किताबी ज्ञान न देकर जीवन कौशल के विभिन्न पहलुओं की शिक्षा देकर विद्यालय का वातावरण सहज, प्राकृतिक व प्रगतिशील बन जाता है। विद्यालय के अध्यक्ष श्री धर्मवीर सिंह चौहान व उपाध्यक्ष श्रीब्रह्मदत्त कौशिक के सटीक मार्गदर्शन व दूरदृष्टि विद्यालय अपने स्थापना वर्ष 2001 से ही प्रगति पथ पर निरंतर अग्रसर है। प्रतिवर्ष बोर्ड के परीक्षा परिणाम क्षेत्र में कई कीर्तिमान स्थापित कर चुके हैं। विद्यालय के प्रधानाचार्य श्री सुशील कुमार विद्यालय के विकास व प्रगति के लिए पूर्णरूप से समर्पित हैं व भविष्य में विद्यालय को शिखर तक पहुंचाने के लिए हर संभव प्रयास करते हैं। ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षा की गुणवत्ता को बनाए रखने, विद्यार्थियों को तथ्यपूर्ण ज्ञान बांटने व उनके भविष्य को उज्ज्वल बनाने के लिए यह विद्यालय एक उत्तम विकल्प है। 2017-18 के लिए प्रवेश प्रारंभ हो चुके हैं।